(सहकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन शत–प्रतिशत सहायता अनुदान प्राप्त संस्थान)
गणेश खिंड मार्ग, पुणे - 411 007, महाराष्ट्र, भारत

  • Home
  •  DMCO के बारे में
DMCO के बारे में

 कम्प्यूटर संचालन के प्रबंधन में पत्रोपाधि (डीएमसीओ) की जानकारी

कम्प्यूटर संचालन के प्रबंधन में पत्रोपाधि (डीएमसीओ) यह २००९ में शुरू किया गया देश में अपनी तऱ्ह का पहला पत्रोपाधि पाठ्यक्रम है । इस पत्रोपाधि के विषयवस्तु, सहकारी संस्थाओं जैसे बैंक, चीनी कारखानों तथा दुग्ध सहकारी संस्थाओं इत्यादि की वास्तविक जरुरतों पर आधारित है । इसलिये, इस पत्रोपाधि पाठ्यक्रम को विभिन्न माड्यूल तथा घटकों में बांधा गया हैं जो संबधित संगठनों/संस्थाओं में आई टी संचालनों में सहायक सिद्ध होगा । इस पत्रोपाधि कि पाठ्य सामग्री, इस पाठ्यक्रम में भाग लेनेवाले प्रतीभागी कर्मचारियों / अधिकारियों को आई टी सुरक्षा, डाटा बेस प्रशासन इत्यादि के चुनौतीपूर्ण दायित्वों को संभालने में मददगार होगी । यह पत्रोपाधि राष्ट्रीय सहकारी प्रशिक्षण परिषद, (एनसीसीटी), नई दिल्ली से मान्यता प्राप्त है।

उद्देश्य

पत्रोपाधि का उद्देश्य निम्नलिखित को समाहित करना है -

  • आई टी संचालनों के प्रति जागरूकता ।
  • उभरते प्रोद्योगिकी चुनौतीयों की जानकारी देना ।
  • आई टी संचालन में वैयक्तिकों की भूमिका तथा कर्तव्यों के पृथक्करण के महत्व को स्पष्ट करना।
  • आईटी कर्मचारियों / अधिकारियों को आई टी संचालनों की प्रक्रियागत पहलूओं से अवगत कराना ।
  • कम्प्यूटरीकृत परिवेश में इसके महत्त्व तथा विविध पहलूओं से अवगत कराना ।

अवधि : तीन माह (दो माह वैमनीकॉम, पुणे में तथा एक माह प्रायोजित करनेवाले संगठन में)

विषय :

पहला सत्र - पहला माह (वैमनीकॉम):
माड्यूल - I

  1. कम्प्यूटर का बेसिक
  2. आईटी संचलन
  3. कार्यालय स्वचलन
  4. उभरते आईटी रुझान, आईटी अनुप्रयोग तथा आईटी सुरक्षा - I

द्वितीय सत्र - दुसरा माह - प्रायोजित करनेवाले संगठन में प्रोजेक्ट कार्य - (अवधि एक माह)
माड्यूल - II
प्रायोजित करनेवाले संगठन में प्रोजेक्ट कार्य
तृतीय सत्र - तिसरा माह (वैमनीकॉम):
माड्यूल - III

  1. उभरते आईटी रुझान, आईटी अनुप्रयोग तथा आईटी सुरक्षा - II
  2. इंटरनेट तथा वेबसाईट संचालन
  3. उन्नत एम एस - एक्सेल
  4. प्रोजेक्ट कार्य तथा प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करना

परीक्षा

निरंतर आंतरिक मुल्यांकन (सी आई ए) 60% अंक तथा बाह्य परीक्षा 40% अंक सहित विषयो पर अपेक्षित सिद्धांत तथा प्रेक्टिकल की परीक्षा होगी ।
 

प्रोजेक्ट

प्रतीभागी को अपने संबधित संगठनों पर दुसरे महिने में प्रोजेक्ट कार्य करना होगा । सफलतापूर्वक पुरा करने के बाद, पत्रोपाधि आंतरिक व बाह्य मुल्यांकन के आधार पर प्रदान कि जाएगी|

लक्ष्य समूह

सहकारी बँकों, चीनी कारखानों, दुग्ध सहकारी संस्थाओं एवं अन्य सहकारी संस्थाओं के किसी भी प्रकार की सूचना प्रोद्योगिकी की औपचारिक - शैक्षणिक योग्यता न रखने वाले विभिन्न विभागों / अनुभागों के कर्मचारी एवं आईटी कर्मचारी व अधिकारीगण ।
शैक्षणिक योग्यता
कोई भी स्नातक (ग्रेजूएट) कार्यक्रम में भाग ले सकता है । ऐसे अध्यार्थियों के लिए जो आईटी संचालन के कार्य में कम से कम तीन वर्षो से जुडे रहे हैं एवं अनुभव रखते हैं उन्हे शैक्षणिक योग्यता में छूट प्रदान कि जा सकती है ।

प्रवेश क्षमता - 20 
पाठ्यक्रम शुल्क

गैर - आवासीय प्रतीभागियों के लिए शुल्क रु. 22,000/- (दोपहर के भोजन व सत्र की चाय का समावेश है) तथा आवासीय प्रतीभागियो के लिए शुल्क रु. 30,000/- है ।