(कृषि और सहकारिता विभाग, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन शत–प्रतिशत सहायता अनुदान प्राप्त संस्थान)
गणेश खिंड मार्ग, पुणे - 411 007, महाराष्ट्र, भारत

केंद्र
सूचना प्रौद्योगिकी

संस्थान में एक सूसज्जित प्रौद्योगिकी केन्द्र स्थापित है जो छात्रों तथा सहभागियों को सुविधाएं प्रदान करती है । संस्थान में सब मिलाकर 115 पर्सनल कम्प्यूटर (पीसी) है जिनकी नेटवगि को दो अलग - अलग लोकल एरिया नेटव से जोडी गई है । एक कम्प्यूटर लैब का नवीनीकरण किया गया है जिसमें 40 i5 कम्प्यूटर हैं जो लैन ई सर्वर से जोडे गये है । संस्थान में छात्रों के लिए विन्डो 2007, लीनक्स, सर्वर पर नेटवेअर तथा विन्डो डेस्कटॉप पीसी, एमएस ऑफिस, प्रोजेक्ट, ड्रीमवीवर तथा अन्य साफ्टवेअरों का प्रयोग किया जाता है । संस्थान के सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) सेटअप में स्केनर, सीडी-राईटर तथा प्रिंटरों जैसे अन्य उपयोगी हार्डवेअर उपकरणों का समावेश है । इटरनेंट की सुविधा पीजीडीएम छात्राओं तथा छात्रों के छात्रावास सहित संपूर्ण सेटअप में नेशनल नॉलेज नेटव नई दिल्ली के माध्यम से 100 एमबीपीएय की स्पीड सहित प्रदान की गयी है जिसे लाईसेंस युक्त एंटी वायरस साफ्टवेअर से तथा युनिफाईड थ्रीट मैनेजमेंट (यूटीएम) उपकरण के माध्यम से सुर्क्षा प्रदान की गई है ।

संस्थान ने कम्प्यूटर संचालन के प्रबंधन में पत्रोपाधि (डीएमसीओ) पाठयक्रम का वर्ष 2010 से शुभारंभ किया है तथा इस कार्यक्रम के तीन सत्रों का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया है । यह देश में अपनी तरह का पहला तथा एक मात्र पत्रोपाधि पाठयक्रम है । इस पत्रोपाधि के विषयवस्तु, सहकारी संस्थाओं जैसे बैंक, चीनी कारखानों तथा दुग्ध सहकारी संस्थाओं इत्यादि वास्तविक जरुरतों पर आधारित है । इसलिए कम्प्यूटरीकरण के माध्यम से अपेक्षित परिणाम प्राप्त करने हेतु कम्प्यूटरीकरण के प्रणाली बध्द तरीके से कार्यान्वयन में अग्रेसर होगा । इस पत्रोपाधि के पाठय सामग्री इस पाठयक्रम में भाग लेने वाले कर्मचारियों / अधिकारियों को आईटी सुरक्षा, डाटा बेस प्रशासन, इत्यादि के चुनौतिपूर्ण दायित्व कों संभालने में मददगार होगा । यह पत्रोपाधि पाठयक्रम राष्ट्रीय सहकारी प्रशिक्षण परिषद (एनसीसीटी), नई दिल्ली से मान्यता प्राप्त हुई ।